Friday, July 19, 2024
HomeHimachal Newsजिला खाद्य सुरक्षा विभाग के सौजन्य से शनिवार को रैहन में एक...

जिला खाद्य सुरक्षा विभाग के सौजन्य से शनिवार को रैहन में एक जागरूकता शिविर का आयोजन किया

जिला खाद्य सुरक्षा विभाग के सौजन्य से शनिवार को रैहन में एक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया । जिसमें खाद्य पदार्थों से संबंधित करियाना व्यापारी , होटल व्यवसायी, रेस्टोरेंट मालिक, फास्ट फूड कॉर्नर मालिक व हलवाई विक्रेताओं ने विशेष रूप से अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई ।इस दौरान खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम ने उपस्थित दुकानदारों को विशेष दिशा निर्देश जारी किए । शिविर खाद्य सुरक्षा जिला सहायक आयुक्त सविता ठाकुर व जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी डा.अभिषेक ठाकुर विशेष रूप से उपस्थित रहे ।जबकि समाजसेवी व व्यापार मंडल प्रधान चेतन चंबियाल ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवाई। इस दौरान खाद्य सुरक्षा जिला सहायक आयुक्त सविता ठाकुर ने दुकानदारों को संबोधित करते हुए कहा कि खाद्य पदार्थों से संबंधित सभी दुकानदारों के लिए लाइसेंस व दुकानों का पंजीकरण करवाना अनिवार्य किया गया है । उन्होंने बताया कि ऐसे दुकानदार जिनका टर्नओवर 12 लाख से ऊपर है। उन दुकानदारों को अपनी दुकान का लाइसेंस बनवाना नितांत आवश्यक किया गया है । वहीं 12 लाख से कम आय वाले दुकानदारों के लिए पंजीकरण की प्रक्रिया लागू की गई है । जिन दुकानदारों का पंजीकरण हो चुका है वे समयानुसार इसे रिन्यू करवाएं, जबकि लाइसेंस धारक भी अपने लाइसेंस को रिन्यू करवाने की प्रक्रिया अपनाएं । वहीं मापदंड अनुसार अभी तक लाइसेंस न लेने वाले दुकानदार अति शीघ्र लाइसेंस ले लें। जबकि अभी तक पंजीकरण न करवाने वाले दुकानदार पंजीकरण करवा लें। इसके लिए ऑन लाइन प्रक्रिया अपनाई जा सकती है।लाइसेंस या पंजीकरण को नजरंदाज करने वाले दुकानदारों के लिए जुर्माने का प्रावधान भी है। जबकि सजा भी हो सकती है।उन्होंने कहा कि फूड सेफ्टी एंड  स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एफएसएसएआई) के दिशानिर्देशानुसार  ऐसे सभी दुकानदारों को अपने ग्राहकों को स्वस्थ एवम स्वच्छ आहार उपलब्ध करवाना अनिवार्य किया गया है। जो खाद्य सामग्री से संबंधित है।कहा कि दुकानदार तलाई वाले तेल का प्रयोग तीन बार से अधिक न करें । दुकानदार तीन बार प्रयोग किए गए तेल को इकट्ठा कर रख लें । सरकार द्वारा अधिकृत कंपनी के लोग तीन बार प्रयोग में लाए गए तेल को खुद दुकानदार के पास आकर उठा लेंगे। वहीं कहा कि विक्रेता दुकान के अंदर पड़े सामान की मैन्युफैक्चरिंग एवम एक्सपायरी तिथि की जांच कर लें। एक्सपायरी सामान को दुकान से तुरंत हटा लें ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments