Monday, July 15, 2024
HomeHimachal Newsबोर्ड कार्यप्रणाली का विरोध में एकजुट हुए मज़दूर संगठन, शिमला में बोर्ड...

बोर्ड कार्यप्रणाली का विरोध में एकजुट हुए मज़दूर संगठन, शिमला में बोर्ड सचिव से की चर्चा!

एक माह में अमल न होने पर सयुंक्त संघर्ष छेड़ने का हुआ फैसला-भूपेंद्र सिंह

हिमाचल प्रदेश श्रमिक कल्याण बोर्ड द्धारा गत सप्ताह जारी पत्रों पर विरोध दर्ज करने के लिए आज सभी मज़दूर यूनियनों के सयुंक्त प्रतिनिधि मंडल ने बोर्ड के सचिव से मुलाक़ात की और गत सप्ताह बोर्ड द्धारा जारी दो पत्रों पर विरोध व्यक्त किया और इन्हें रद्द करने की मांग उठाई। सीटू से सबंधित निर्माण मज़दूर की यूनियन के राज्य महासचिव की मांग पर बोर्ड के सचिव राजीव कुमार ने आज ये बैठक बुलाई थी। जिसमें पंजीकृत मज़दूर यूनियनों के साथ राज्य व ज़िला स्तर पर तालमेल न करने और उन्हें नजरअंदाज करने पर कड़ी आपत्ति जताई गई और भविष्य में इस कार्यप्रणाली पर तुरन्त रोक लगाने की मांग उठाई गई।जिसके चलते कई जिलों में श्रम कल्याण अधिकारी मज़दूर यूनियनों के माध्यम आने वाले प्रपत्र लेने से इंकार कर रहे हैं जो बोर्ड के नियमों के विपरीत है।इसके अलावा पंजीकरण कार्ड को अपडेट करने के लिए बोर्ड दफ़्तर में मज़दूरों को न बुलाने और नवीनीकरण के समय इन्हें बोर्ड कर्मचारी ही करने की मांग उठाई।ग्रामीण इलाकों में भवन व अन्य निर्माण करने वाले मज़दूरों के रोज़गार प्रमाण सचिव के बजाये भविष्य में नियोक्ता द्धारा जारी करने और उसे कल्याण अधिकारी द्धारा सत्यापित करके पारित किया जायेगा।पिछले तीन साल के आवेदनों की पुनः जांच करवाने का भी विरोध किया गया और उन्हें जल्दी स्वीकृत करने की मांग की गई।सभी मज़दूरों के बजाए उन्हीं मज़दूरों के आधार नंम्बर लिए जाएंगे जिनके नंम्बर बोर्ड में उपलब्ध नहीं है।लेक़िन निचले स्तर पर इस कार्य को 15 दिनों से बजाये अगले छः महीने में चरणबद्ध तरीके से पूर्ण किया जायेगा।लंबित लाभों को ला विभाग से निर्देश आ जाने पर जारी करने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।सभी यूनियन प्रतिनिधियों ने बोर्ड नियमावली के नियम 266 से सेस की शर्त हटाने और यूनियनों को रोज़गार प्रमाण पत्र जारी करने के अधिकार को तुरन्त बहाल करने की मांग की गई।मजदुरों का पंजीकरण व नवीनीकरण कार्य तुरन्त शुरू करने की भी मांग उठाई।बोर्ड सदस्य व सीटू के भूपेंद्र सिंह के प्रस्ताव पर ये निर्णय लिया गया कि अगर यदि एक महीने पर इन सब मांगो को नहीं माना जाता है तो सभी मज़दूर संगठन मिलकर सँघर्ष छेड़ेंगे।बैठक में सीटू के कश्मीर सिंह ठाकुर, विजेंद्र मेहरा, भूपेंद्र सिंह और जोगिन्दर कुमार इंटक के प्रेम चन्द भाटिया और पूर्ण चन्द बीएमएस के प्रदीप कुमार,मंगत राम नेगी और सुरेंद्र ठाकुर निर्माण मज़दूर यूनियन के रविन्द्र सिंह रवि ग्रामीण कामगार संघटन के संत राम और डोले राम सहित 15 सदस्यों ने भाग लिया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments