Saturday, July 13, 2024
HomeHimachal Newsशिलाई क्षेत्र का जन प्रतिनिधि होने के नाते क्षेत्र का संपूर्ण विकास...

शिलाई क्षेत्र का जन प्रतिनिधि होने के नाते क्षेत्र का संपूर्ण विकास उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है

उद्योग, संसदीय मामले एवं आयुष मंत्री हर्षवर्धन चौहान ने कहा कि शिलाई क्षेत्र का जन प्रतिनिधि होने के नाते क्षेत्र का संपूर्ण विकास उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि शिलाई क्षेत्र की जनता ने उन्हें आशीर्वाद देकर विधानसभा भेजा और कैबिनेट मंत्री के रूप में अपनी जिम्मेवारी का निर्वहन करते हुए वह शिलाई क्षेत्र में विकास की नई ईबारत लिखने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि शिलाई क्षेत्र में अभी तक जितने भी बड़े और उल्लेखनीय विकास कार्य हुए हैं, वह सब उनके कार्यकाल और प्रदेश में रही कांग्रेस सरकारों के कार्यकाल में ही हुए हैं। उद्योग मंत्री हर्ष वर्धन चौहान अपने शिलाई विधानसभा क्षेत्र के प्रवास के दौरान गत सांय बकरास में जन समस्यायें सुन रहे थे।हषवर्धन चौहान ने कहा कि गत सांय क्यारी गुंडाह से पांवटा बस सेवा का शुभारम्भ हुआ है जिससे क्षेत्र के सैंकडों लोगों, विशेषकर महिलाओं, बजुर्ग, स्कूली बच्चों, अपंगों आदि को विशेष लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि क्यारी गुंडाह सड़क उनके कार्यकाल में ही निर्मित हुई थी।

 

उद्योग मंत्री हर्ष वर्धन चौहान पांवटा साहिब से क्यारी गुंडा तक बस में सवार होकर बकरास पहुंचे जहां पर जगह-जगह स्थानीय लोगों ने उनका स्वागत और अभिनंदन किया।

 

हर्ष वर्धन चौहान ने कहा कि आपदा के कारण प्रदेश में 450 से अधिक लोगों की जानें गई हैं तथा 12 हजार करोड़ रुपये से अधिक का नुकसान हुआा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने प्रदेश में राष्ट्रीय आपदा घोषित करने के लिए प्रस्ताव पारित कर केन्द्र सरकार को भेजा है। किन्तु खेद का विषय है कि विपक्षी दलों ने इस प्रस्ताव का समर्थन नहीं किया।

 

उद्योग मंत्री ने कहा कि पिछली सरकार प्रदेश में 77 हजार करोड़ रूपये के ऋण का बोझ छोड़कर गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आई आपदा तथा सीमित संसाधनों के बावजूद मुख्यमंत्री सुखविन्द्र सिंह सुक्खु के नेतृत्व में प्रदेश में विकास कार्यों को थमने नहीं दिया गया है।

 

हर्षवर्धन चौहान ने बताया कि शिलाई विधानसभा क्षेत्र में 52 करोड़ रुपये की लागत से नई सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। इसके अलावा 60 करोड़ रुपये की लागत से पेयजल योजनाओं का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि शिलाई अस्पताल के भवन का निर्माण 2 करोड़ रुपये की लागत से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि शिलाई क्षेत्र में स्वास्थ्य सेवाओं को सुदुढ़ करने के उददेश्य से 5 चिकित्सकों की नियुक्ति शिलाई अस्पताल में की जा रही हैं तथा हॉस्पिटल का कार्य प्रगति पर है।

 

उद्योग मंत्री ने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला बकरास के भवन के लिए 25 लाख रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने टिम्बी में भूमि उपलब्ध होने पर विश्राम गृह निर्मित करने का आश्वासन भी दिया। उन्होंने सामुदायिक भवन बकरास के लिए तीन लाख रुपये देने की घोषणा की।

 

पूर्व जिला परिषद सदस्य रणजीत सिंह, पूर्व चैयरमैन रतन सिंह, प्रधान महिला मंडल श्याम कला के अलावाा विभिन्न विभागों के अधिकारी व पंचायती राज संस्थानों के पदाधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments