Friday, July 19, 2024
HomeHimachal Newsहिमाचल प्रदेश में फिर फटा बादल, घर छोड़ने के हुए मजबूर लोग...

हिमाचल प्रदेश में फिर फटा बादल, घर छोड़ने के हुए मजबूर लोग कई मकान हो गए ध्वस्त

हिमाचल प्रदेश में सुबह 4 बजे बादल फटने से पंचानाला और हुरला नाला में बाढ़ ने तबाही मचा दी। जिसमें पांच मकान पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए हैं, जबकि 15 को आंशिक रूप से नुकसान पहुंचा है।

तीन पुल भी बाढ़ में बह गए हैं। इसके साथ ही भुंतर-गड़सा मनियार सड़क मार्ग भी कई स्थानों पर क्षतिग्रस्त हुई है। सरकारी व निजी भूमि को नुकसान के साथ ही कुछ मवेशी भी बह गए हैं। प्रशासन की ओर से नायब तहसीलदार भुंतर मौके के लिए रवाना हो गए हैं।जिला कुल्लू गड़सा घाटी में बादल फटने के बाद हुरला और पंचानाला में आई बाढ़ के बाद लोग अपने घरों को छोड़कर सुरक्षित स्थानों की ओर भागे। नालों में बाढ़ आने के बाद लोगों में अफरातफरी मच गई। हालांकि, बादल फटने की घटना में कोई जानी नुकसान नहीं हुआ। पिछले 16 दिनों में कुल्लू में 12 से अधिक बादल फटने की घटनाओं से पर्यावरणविद व स्थानीय लोग चितिंत हो गए हैं।

वहीं, चंबा जिले की चुराह उपमंडल ग्राम पंचायत नेरा के वार्ड रलहेरा में वार्ड पंच के घर को खतरा पैदा हो गया है। रात को आई भारी बारिश से साथ लगते नाले में बाढ़ आ गई। इससे व्यापक नुकसान हुआ है।दो दिन के लिए ऑरेंज अलर्ट

हिमाचल प्रदेश में मानसून लगातार सक्रिय बना हुआ है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने मंगलवार के लिए भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया है। वहीं, बुधवार और गुरुवार के लिए भारी बारिश का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। प्रदेश में 30 जुलाई तक मौसम खराब बना रहेगा। वहीं, सोमवार रात को धर्मशाला में 80.2, पालमपुर 50.6 और जोगिंद्रनगर में 26.0 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई है। राज्य में इस मानसून सीजन के दौरान अब तक 44 लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments